बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में बाघिन स्पॉटी की मौत: पर्यटन जोन के अंदर मिला शव, दाहिनी आंख के ऊपर T निशान से पड़ा था Spotty नाम

संजय विश्वकर्मा, उमरिया। मध्य प्रदेश के उमरिया जिले में बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में एक मादा बाघ की मौत हो गई है। बाघिन का शव ताला टूरिस्ट एरिया में घोड़ा डेविल्स गेट के पास मिला था। जिसकी उम्र करीब 11 साल बताई गई है। बाघिन की मौत का कारण स्पष्ट नहीं हो पाया है, पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही असली कारण सामने आएगा।

दरअसल, 18 सितंबर की शाम स्पॉटी ताला रेंज के शेष शैया बीट के कमरे आरएफ325 के दानव घोड़े के पास बाघिन पड़ी नजर आई। फिर उठें, थोड़ी देर टहलें, फिर लेट जाएं। जब रेस्क्यू टीम संदिग्ध स्थान पर पहुंची तो पता चला कि स्पॉटी बाघिन पिछली जगह से करीब 30 मीटर दूर मरी हुई थी।

मंत्री शिवराज का फरमान- डीजीपी! झाबुआ एसपी का निलंबन, एक घंटे के अंदर निलंबन जारी, विश्वविद्यालय विवाद में छात्र से किया दुर्व्यवहार, देखें VIDEO

यह जानकारी क्षेत्रीय निदेशक बांधवगढ़ ने राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण के अधिकारियों को दी। मृत बाघ का पोस्टमार्टम कराया गया। इसके बाद अंतिम संस्कार किया गया। घटना स्थल की फोरेंसिक जांच भी कराई जाएगी। प्रधानमंत्री की रिपोर्ट के बाद ही बाघिन की मौत के कारणों का पता चलेगा। क्योंकि प्रबंधन के पास बाघिन की मौत की कोई खास जानकारी नहीं है.

बता दें कि बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में 1 अक्टूबर से कोर जोन में पर्यटन फिर से शुरू हो जाएगा। वन्यजीव प्रेमियों को भी पिछले दो महीने से बोम पार्क के खुलने का बेसब्री से इंतजार है। लेकिन पर्यटक इस बार ताला कोर जोन में टाइग्रेस स्पॉटी (T41) नहीं देख पाएंगे। 2012 में जन्मी, बाघिन नीली आंखों वाले T13 वाले नर चित्तीदार बाघ सुखी पतिहा T5 की संतान है। स्पॉटी नाम दाहिनी आंख के ऊपर टी से आता है।

बाबू पकड़ी रिश्वत : पेंशन शाखा के बाबू को मेडिकल स्टाफ से 8 हजार की रिश्वत लेते पकड़ा, लोकायुक्त ने की कार्रवाई, यहां सचिव पर लगा पैसे से काम नहीं करने का आरोप

टाइग्रेस स्पॉटी की बहन डॉटी है और टाइग्रेस स्पॉटी का साथी ताला का प्रमुख टाइगर मंगू है। अभी हाल ही में ताला कोर जोन में पार्क बंद होने से पहले स्पॉटी की बेटी कजरी दो शावकों के साथ आकर्षण का केंद्र बनी थी।

टाइग्रेस स्पॉटी का मेट टाइगर मंगू

और पढ़ें- जीका वायरस स्टॉक की जांच के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने केरल में विशेषज्ञों की एक टीम तैनात की

Leave a Comment